पीएम शहरों को साफ करने का दे रहे संदेश, लेकिन दिल्ली भाजपा स्वच्छता के नाम पर फ़ेल

- प्रधानमंत्री की पार्टी की दिल्ली इकाई से जब कूड़े की सफाई नही हुई तो दिल्ली नगर निगम की संपत्तियां साफ करनी की शुरु : दुर्गेश पाठक

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छता अभियान 2.0 का जिक्र करते हुए आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता व एमसीडी प्रभारी दुर्गेश पाठक ने रविवार को दिल्ली भाजपा पर दिल्ली को गंदा करने आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने अब शहरों को साफ करने का संदेश दिया है जो कि बहुत ही उत्तम विचार है। लेकिन उनकी ही पार्टी की दिल्ली इकाई स्वच्छता के नाम पर पूरी तरह फ़ेल रही है।

उनका मुख्य काम देश की राजधानी को स्वच्छ रखना है लेकिन उन्होंने दिल्ली में सिर्फ और सिर्फ भ्रष्टाचार किया है। कूड़े की सफाई तो हुई नहीं लेकिन अब दिल्ली निगम की संपत्तियां साफ कर रहे हैं। आम आदमी पार्टी ने जनता को भरोसा दिलाया कि यदि अगले चुनाव में एमसीडी में आम आदमी पार्टी की सरकार बनती है तो वह दिल्ली को कूड़ा मुक्त कर देगी।

दुर्गेश पाठक ने कहा कि, मैं प्रधानमंत्री जी को सुन रहा था और उन्हें सुनकर मुझे बहुत अच्छा लगा। उन्होंने एक संदेश दिया है कि इस देश में स्वच्छता को बढ़ावा मिलना चाहिए। उसी कड़ी में उन्होंने एक अभियान लॉन्च किया है। लॉन्च में उन्होंने कहा कि शहरों में बहुत गंदगी है, शहरों में कूड़े के पहाड़ लगे हुए हैं, जिनकी सफाई बहुत जरूरी है। उन्होंने सभी राज्य अधिकारियों से मीटिंग कर कहा कि अब शहरों को साफ करना है। यह बहुत ही उत्तम विचार है और ऐसा होना भी चाहिए।

एमसीडी प्रभारी ने कहा, लेकिन प्रधानमंत्री जी, मैं आपके ध्यान में कुछ बातें लाना चाहता हूं। प्रधानमंत्री, जिस शहर में आप रहते हैं, हिंदुस्तान की जो राजधानी है दिल्ली, उस दिल्ली की एमसीडी में पिछले 15 सालों से भारतीय जनता पार्टी का राज है। उनका मुख्य काम देश की राजधानी को स्वच्छ रखना है। राजधानी में कहीं जलभराव न हो, राजधानी का जितना भी कूड़ा है उस कूड़े को सही तरीके से प्रोसेस किया जाए। यह उनका मुख्य काम है।

उन्होंने कहा, प्रधानमंत्री जी, आप जब भी विदेश से वापस आते होंगे, तो देखते होंगे कि दिल्ली में तीन कूड़े के बड़े बड़े पहाड़ खड़े हैं। आप देखते होंगे कि एक कूड़े का पहाड़ गाजीपुर में लगा हुआ है, एक भलस्वा में लगा हुआ है और एक ओखला में लगा हुआ है। प्रधानमंत्री जी, पिछले 15 सालों से दिल्ली नगर निगम में बैठी भाजपा इन कूड़े के पहाड़ों को साफ करने का ढोंग कर रही है।

बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति है कि आपकी पार्टी के नेता जिस काम के लिए जिम्मेदार हैं, उसमें पूरी तरह से फेल हुए हैं। फेल होने का जो सबसे बड़ा कारण है, वह है भ्रष्टाचार। 2019 में लगभग 280 लाख मैट्रिक टन कूड़ा इन तीनों पहाड़ों पर पड़ा हुआ था। 2020 की जो रिपोर्ट है, वह यह कहती है कि जितना कूड़ा आ रहा है एमसीडी उतना कूड़ा भी प्रोसेस नहीं कर पा रही है। तो पुराना कूड़ा साफ करना तो बहुत दूर की बात है, जो नया कूड़ा आ रहा है, एमसीडी उसको भी साफ नहीं कर पा रही है।

Comments are closed.