पुलिस मुठभेड़ में तीन शातिर लुटेरे गिरफ्तार , एक बदमाश को लगी गोली

तीनों लुटेरों की लंबे समय से पुलिस को थी तलाश

आशीष श्रीवास्तव

जौनपुर: जिले में बीती रात पुलिस मुठभेड़ में तीन शातिर लुटेरे गिरफ्तार हुए। इनमें से एक पैर में गोली लगने से घायल है। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। कब्जे से एक चोरी की एक बाइक, दो पिस्टल और दो जिंदा कारतूस बरामद हुआ है। मुठभेड़ के दौरान बदमाशों की ओर से चली गोली चौकी प्रभारी सिविल लाइन के बुलेट प्रूफ जैकेट में जा धंसी, जिससे वे बाल-बाल बच गए।

लाइन बाजार थानाध्यक्ष अखिलेश कुमार मिश्रा फोर्स के साथ प्रसाद तिराहे पर मौजूद थे। पुलिस संदिग्ध वाहनों की चेकिंग कर रही थी। इस दौरान एसओजी प्रभारी आदेश त्यागी और सर्विलांस प्रभारी रामजनम यादव, चौकी इंचार्ज टीडी कॉलेज आशुतोष गुप्ता प्रभारी, चौकी प्रभारी चौकिया धाम चंदन कुमार राय मौजूद थे। रात करीब साढ़े 11 बजे तेज गति से एक बाइक आती दिखी जिस पर तीन लोग सवार थे। पुलिस ने रूकने का इशारा किया तो बाइक पर सबसे पीछे बैठे युवक ने गोली चला दी और भागने लगे। पुलिस ने बदमाशों का पीछा किया तो बाइक सवारों ने रास्ता बदल लिया और आराजीभगवतीपुर की तरफ मुड़ गए। तेज गति होने के कारण बाइक अनियंत्रित हो गई और तीनों सड़क पर गिर गए। पुलिस नजदीक आने लगी तो फिर से गोली चलाने लगे। इस दौरान एक गोली चौकी इंचार्ज सिविल लाइन के बुलेट प्रूफ जैकेट पर जा लगी। जवाबी कार्रवाई में एक बदमाश के बाएं पैर में गोली लगी और वो वहीं गिर गया। पुलिस ने घेराबंदी कर तीनों को गिरफ्तार किया।

घायल ने अपना नाम गौरव सिंह उर्फ गोलू पुत्र पंकज सिंह निवासी भटेवरा थाना सरायख्वाजा जौनपुर बताया। वहीं बाकी दो लोगों की पहचान पंडित अजीत शर्मा पुत्र पंडित सुधाकर शर्मा निवासी हुसैनाबाद थाना लाइन बाजार जनपद जौनपुर और शिवा सिंह पुत्र रमेश सिंह पुत्र भुसौड़ी थाना सरपतहा के तौर पर हुई। गौरव सिंह उर्फ गोलू पर छह मुकदमे दर्ज हैं। अन्य दोनों बदमाशों पर दो-दो मुकदमा दर्ज है। पुलिस अग्रिम कार्रवाई में जुटी है।

Comments are closed.