प्रशासन करे कोरोना से मरने वाले लोगों के शव को श्मशान घाट पहुंचाने की व्यवस्था

कोरोना का कहर देश में थमने का नाम ले रहा है. देश में कोरोना महामारी के कारण लोगों के मरने का सिलसिला लगातार जारी है.

नोएडा: कोरोना का कहर देश में थमने का नाम ले रहा है. देश में कोरोना महामारी के कारण लोगों के मरने का सिलसिला लगातार जारी है. इस बीच भारत विकास परिषद के अध्यक्ष अजेय कुमार गुप्ता ने ये मांग की है कि कोरोना से मरने वाले लोगों के शवों को श्मशान घाट तक पहुंचाने की उचित व्यवस्था की जाए. ये मांग उन्होंने जिलाधिकारी सुहास एलवाई को पत्र लिखकर की है.

अजेय कुमार गुप्ता ने उन्होंने जिलाधिकारी सुहास एलवाई को पत्र में लिखा कि महामारी के इस दौर में एक दूसरी समस्या उत्पन्न हो रही है. गौतमबुद्धनगर में वैसे लोग ज्यादा रहते हैं जो देश के अलग अलग प्रांत/शहरों से आकर यहां काम करते हैं. ऐसे में वो यहां समाजिक रुप से ज्यादा सक्रिय नही हो पाते. यहां उनके कोई रिश्तेदार /संबंधी नहीं रहता है. जिलाधिकारी से उन्होंने मांग की है कि शवों को श्मशान घाट तक तक पहुंचाने के लिए जिला प्रशासन  पीपी किट के साथ एक टीम तैयार करें. अपने पत्र में उन्होंने एक घटना का जिक्र करते हुए लिखा. हेमा त्रिवेदी नाम की एक वृद्ध (93 वर्षीय) महिला, जो नोएडा सी-209, गरिमा  विहार, प्लाट नं- ए-124, सेक्टर-35 में रहती थी. हाल ही उनकी मौत हो गई थी. कोरोना के कारण उनका बेटा हॉस्पीटल मे एडमिट और उनकी बहु ओर पोती कोविड पॉजिटिव होने के कारण होम आईसोलेशन में है. इस परिस्थिति में मदद मांगने पर भी उनके शव को कोई श्मशान घाट तक ले जाने के लिये आगे नहीं आया.

 

Leave A Reply