लखीमपुर खीरी हिंसा को लेकर समाजवादी पार्टी का धरना प्रदर्शन,बोले आरोपियों पर हो मुकदमा दर्ज़

 

रिपोर्ट-जाहिद अख्तर

खबर औरैया से। पार्टी के पिछड़ा बर्ग सम्मेलन में पहुँचे औरेया,,राज पाल ने कहा समाज वादी पार्टी पहले ही दिन से समाजवादीपार्टी किसानों के साथ खड़ी है।माननीय अखिलेश यादव जी ने कहा सरकार को किसानों की बात मान लेनी चाहिए।नही तो समजवादी पार्टी किसानों के साथ हमेशा खड़ी रहेगी।
महामहिम राज्यपाल जी सरकार को बर्खास्त करके राष्ट्रपति शासन लगाने की बात कही।केंद्रीय मंत्री एव उनके बेटे पर 302 का मुकदमा चलाया जाए।

उत्तर प्रदेश में अघोषित इमरजेंसी लगी हुई

आज धरना इसलिए देना पड़ रहा है कि उत्तर प्रदेश में अघोषित इमरजेंसी लगी हुई है केंद्रीय मंत्री के बेटे ने किसानों को अपनी गाड़ी से सत्ता के नशे में चूर होकर कुचलने का काम किया है लखीमपुर की धरती किसानों से लगने का काम किया है और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष माननीय अखिलेश यादव जी आज लखीमपुर में शोक संवेदना व्यक्त करने किसानों के बीच की भी जा रहे थे और उनकी कोठी को छावनी में तब्दील कर दिया साथ ही साथ घर से जैसे ही निकले उनको गिरफ्तार कर लिया गया लाखों लोगों ने प्रदेश में गिरफ्तारी दी है और हजारों कार्यकर्ताओं पर लाठियां चला दी गई काम पुलिस प्रशासन ने किया है और औरैया जिले में हजारों लोग यहां धरने पर बैठे हैं धरना कब तक चलता रहेगा अखिलेश यादव जी को रिहा नहीं किया जाता यह उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी की यह मांग है जो यह इमरजेंसी लगा रखी है।

उत्तर प्रदेश की सरकार को बर्खास्त किया जाए

उत्तर प्रदेश की सरकार को बर्खास्त किया जाए जो हमारे मृतक किसान हैं उनको 22 करोड़ रुपए मुआवजा दिया जाए 877 उनको नौकरी दी जाए और जो गृह राज्य मंत्री हैं उनकी गिरफ्तारी की जाए उनके बेटे की गिरफ्तारी हो 302 का मुकदमा लिखा जाए यह किसान किसान विरोधी सरकार है इसका चेहरा उजागर होगा और मुख्यमंत्री एवं उपमुख्यमंत्री वही गए थे यहां लखीमपुर में किसान धरने पर बैठे थे और उपमुख्यमंत्री उसी क्षेत्र में थे उन्होंने संवेदनहीनता की पराकाष्ठा कर दी है जब मंत्री ने एक बार भी उनके यहां संवेदना संवेदना व्यक्त करने नहीं गए और कार्यक्रम करते रहे और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री भी संवेदनहीन हो गए हैं इनको तो नैतिकता के आधार पर इस्तीफा दे देना चाहिए नहीं तो महामहिम से हमारा अनुरोध है उत्तर प्रदेश में तत्काल राष्ट्रपति शासन लगा दी जाए यहां की कानून व्यवस्था ध्वस्त हो गई है उत्तर प्रदेश में जंगलराज है और अघोषित इमरजेंसी लगा दी गई।

अखिलेश यादव को गिरफ्तार कर लिया गया

माननीय अखिलेश यादव जी जब-जब किसान के मुद्दे पर निकलते हैं तब तब उनकी गिरफ्तारी करने का काम बीजेपी सरकार करती है किसानों के धर्म धरने में शामिल होने जा रहे थे तभी उनको गिरफ्तार कर लिया गया था और आज भी माननीय अखिलेश यादव जी को गिरफ्तार कर लिया गया लखीमपुर जाते समय शोक संवेदना प्रकट जा करने जा रहे थे यह लोकतंत्र खत्म करके और यहां इमरजेंसी लगाने का काम योगी सरकार ने किया है और हम लोग धरने पर बैठे हैं हमारी पार्टी के सभी नेता औरैया के धरने पर बैठे हैं और धरने पर फिर तभी उठाएंगे जब माननीय अखिलेश यादव रिहा कर दिया जाएगा और किसानों के आंदोलन में समाजवादी पार्टी खड़ी है पहले ही दिन से खड़ी है और तब तक खड़ी रहेगी और जब तक किसानों को न्याय नहीं मिल जाता और किसानों की बात माननीय अखिलेश यादव जी ने भी कहा है जो किसानों की मांग है उसे मान ली जाए और नहीं तो तब तक किसान के साथ समाजवादी पार्टी खड़ी रहेगी।

Comments are closed.