पुराने वाहन मालिकों को अब नहीं मिलेगा अनापत्ति प्रमाण पत्र

पुराने वाहन मालिकों को अब नहीं मिलेगा अनापत्ति प्रमाण पत्र

अभिषेक ब्याहुत

नोएडा। जिले के करीब 30 हजार पुराने वाहन मालिकों को अब अनापत्ति प्रमाण पत्र नहीं मिलेगा। समयावधि पूरी होने के कारण इन वाहनों का पंजीकरण निरस्त कर दिया गया है।

परिवहन विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक जिले में पुराने वाहनों की संख्या करीब एक लाख 60 हजार थी। इनमें 30 हजार पुराने वाहनों का पंजीकरण निरस्त कर दिया गया है। बाकी वाहनों का पंजीकरण निलंबित किया जा चुका है। एआरटीओ प्रशासन सियाराम वर्मा ने कहा कि पंजीकरण प्रमाण पत्र पर वाहनों की समयावधि 15 साल निर्धारित होती है। इसके बाद वाहन सडक़ पर नहीं चलाए जा सकते हैं। नियम के अनुसार छह माह के लिए इन वाहनों का पंजीकरण निलंबित कर दिया जाता है। इस अवधि में चालक अनापत्ति प्रमाण पत्र प्राप्त करके वाहन को दिल्ली-एनसीआर से बाहर दूसरे जिले में ले जा सकते हैं। पंजीकरण निरस्त होने के बाद अनापत्ति प्रमाण पत्र नहीं जारी होता है। उन्होंने कहा कि यदि पुराने वाहन सडक़ पर दौड़ते मिलते हैं तो परिवहन विभाग की प्रवर्तन टीम जब्त कर लेती। इसके बाद वाहन को उसके मालिक के सुपुर्द नहीं किया जाता है। इसलिए जिन वाहनों का पंजीकरण निलंबित किया गया है, वाहन मालिक परिवहन विभाग से अनापत्ति प्रमाण पत्र प्राप्त कर सकते हैं। वहीं, जिन वाहनों का पंजीकरण प्रमाण निरस्त कर दिया गया, उन्हें कबाड़ केंद्र में गाड़ी मालिक कटवा सकते हैं।

Comments are closed.