संचारी रोगों पर हो सीधा वार, ग्राम पंचायतों में चलाया जाए फागिंग अभियान : अनुज सिंह

-जिलाधिकारी ने विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान को सफल बनाने के लिए स्वास्थ्य विभाग एवं अन्य विभागीय अधिकारियों को दिए कड़े निर्देश

हापुड़, (सौरभ शर्मा)। जनपद में दिमागी बुखार तथा अन्य संचारी रोगों की रोकथाम के लिए 18 अक्टूबर से 17 नवंबर तक विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान तथा 18 अक्टूबर से 01 नवंबर तक दस्तक अभियान संचालित किए जाएंगे। यह जानकारी हापुड़ जिलाधिकारी अनुज सिंह की ने बुधवार को दी। उन्होंने बताया कि यह अभियान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर संचालित किए जा रहे हैं। वह बुधवार को कलेक्ट्रेट सभागार में द्वितीय जिला टास्क फोर्स कमेटी की बैठक में बोल रहे थे।

बैठक के दौरान उन्होंने स्वास्थ्य विभाग, नगर विकास विभाग, पंचायती राज/ ग्राम्य विकास, पशुपालन विभाग, बाल विकास एवं पुष्टाहार, शिक्षा, दिव्यांगजन सशक्तिकरण, कृषि एवं सिंचाई, उद्यान विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वह अपने-अपने विभाग से संबंधित गतिविधियां पूरी गंभीरता के साथ संचालित करें।

इस महत्वाकांक्षी कार्यक्रम को पूर्ण रूप से सफल बनाने एवं गांव-गांव व शहर-शहर के मौहल्लों में विशेष स्वच्छता अभियान संचालित करने और मच्छर जनित बीमारियों से नागरिकों को सुरक्षित बनाने के उद्देश्य से जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य विभाग एवं अन्य संबंधित विभागीय अधिकारियों के साथ गहन मंथन किया। साथ ही योगी सरकार के इस कार्यक्रम को सफल बनाने के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश भी दिए।

उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम से जिन विभागों को जोड़ा गया है उन सभी विभागों से संबंधित विभागीय अधिकारी अपनी -अपनी कार्ययोजना जल्द से जल्द स्वास्थ्य विभाग के सम्मुख पेश करें ताकि उसके अनुरूप जनपद में इस कार्यक्रम को पूर्ण रूप से सफल बनाया जा सके।

उन्होंने ये भी कहा कि फ्रंटलाइन वर्कर्स, आशा एवं आंगनवाड़ी कार्यकर्ता प्रतिदिन अपने क्षेत्र में घरों का भ्रमण कर बुखार के रोगियों की सूची, इनफ्लुएंजा लाइक इलनेस रोगियों की सूची, क्षय रोग के लक्षण युक्त व्यक्तियों की सूची तथा कुपोषित बच्चों की सूची तैयार करके एन एन एम के माध्यम से ब्लॉक मुख्यालय में जमा कराएं। उन्होंने सहयोगी विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिए कि अंतर्विभागीय बैठक, स्थानीय निकायों की संवेदीकरण बैठक, ब्लॉक स्तरीय ग्राम विकास अधिकारियों का संवेदीकरण, ब्लॉक स्तर नोडल अध्यापकों का संवेदीकरण प्रत्येक दशा में पूर्ण करें।

जिलाधिकारी अनुज सिंह ने संचारी रोग अभियान के तहत साफ- सफाई, स्वच्छता, एंटी लार्वा छिड़काव, फागिंग, नाला नालियों की सफाई, तालाबों/ पोखरा के पास की झाड़ियों की सफाई, सूअर बाड़ो की सफाई तथा कीटनाशक दवाओं का छिड़काव कार्य शत प्रतिशत सुनिश्चित करने को भी कहा। उन्होंने कहा कि टीकाकरण अभियान व आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए युद्ध स्तर पर कार्यवाही करें। विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान एवं दस्तक अभियान की साप्ताहिक समीक्षा की जाएगी, जिस विभाग का कार्य खराब पाया जाएगा, उस विभाग के प्रमुख अधिकारी के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही की जाएगी।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर रेखा शर्मा ने बताया कि कुछ विभागों की कार्य योजना अप्राप्त है इस अभियान को सफल बनाने के लिए जनपद के सभी ए एन एम, आशा कार्यकत्री, आंगनबाड़ी कार्यकर्ती को लगाया गया है।जनपद की सभी ग्राम पंचायतों सहित राजस्व ग्रामों में संचारी रोग की रोकथाम संबंधी गतिविधियां संचालित की जाएगी।

बैठक में मुख्य विकास अधिकारी उदय सिंह, जिला विकास अधिकारी संजय कुमार, डिप्टी सीएमओ डॉक्टर दिनेश खत्री, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी प्रमोद कुमार, पंचायती राज अधिकारी वीरेंद्र सिंह, जिला प्रतिरक्षण अधिकारी संजीव, जिला मलेरिया अधिकारी सत्येंद्र सिंह, यूनिसेफ से फिरोज सहित सभी संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

Comments are closed.