शाहदरा: स्पेशल स्टाफ ने मवेशियों की चोरी कर हत्या करने वाले गिरोह के पांच बदमाशों को किया गिरफ्तार

शाहदरा: स्पेशल स्टाफ ने मवेशियों की चोरी कर हत्या करने वाले गिरोह के पांच बदमाशों को किया गिरफ्तार

रिपोर्ट: रवि डालमिया

शाहदरा जिला की स्पेशल स्टाफ की टीम ने मवेशियों की चोरी कर हत्या करने वाले गिरोह के पांच बदमाशों को मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया है. इस मुठभेड़ में एक पुलिसकर्मी घायल हुए हैं. गिरफ्तार बदमाशों के पास से देसी कट्टा एक होंडा सिटी कार दो चाकू और मवेशी के का मांस बरामद हुआ है.
डीसीपी आर साथिया सुंदरम ने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों की पहचान चांद अकरम नसीम अनस और अहमद गुफरान के तौर पर हुई है. सभी यूपी के अमरोहा और संभल इलाके के रहने वाले हैं.

सीबीडी ग्राउंड से एक पशु के चोरी होने के संबंध में शिकायत मिली

डीसीपी ने बताया कि 15 फरवरी को आनंद विहार के सीबीडी ग्राउंड से एक पशु के चोरी होने के संबंध में शिकायत मिली आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज थे मारा गया तो पता चला कि हौंड सिटी कार में डालकर पशु को ले जाया गया है.मामले की तफ्तीश के लिए शाहदरा जिले की स्पेशल स्टाफ की टीम गठित किया।रविवार दरमियानी रात एक गुप्त सूचना प्राप्त हुई थी कि पशु चोरी कर हत्या करने वाला का एक गिरोह शाहदरा जिले के गीता कॉलोनी इलाके में आने वाला है. सूचना पर कार्रवाई करते हुए, विशेष स्टाफ की टीम ने पीएस गीता कॉलोनी के अधिकार क्षेत्र के तहत एक जाल बिछाया और एक होंडा सिटी कार को देखा, जिसमें पंजीकरण संख्या 1200 थी. डीएल-4सीएनसी-1898 बहुत तेज गति से आगे बढ़ रहा है.

टीम ने कार को रोकने की कोशिश की

टीम ने कार को रोकने की कोशिश की, लेकिन वे नहीं रुके और भाग गए.टीम ने काफी दूर तक कार का पीछा किया. पीछा करते हुए टीम चाचा नेहरू अस्पताल गीता कॉलोनी के पास पुस्ता रोड पर पहुंची तो होंडा सिटी कार में सवार अपराधियों ने स्पेशल स्टाफ शाहदरा की कार को टक्कर मार दी और उन्हें रोक लिया गया. आरोपियों में से एक व्यक्ति ने एक देशी पिस्तौल से पुलिस पर गोली चलाने की कोशिश की, लेकिन यह गोली से चूक गया. टीम ने आरोपियों को काबू करने की कोशिश की लेकिन उनमें से एक ने विशेष स्टाफ के एक एसआई पर चाकू से हमला कर दिया, जिसके कारण उसके दाहिने हाथ में चोट आई। कुछ मिनटों की हाथापाई के बाद, टीम ने सभी आरोपियों को काबू कर लिया। सभी पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

यमुनापार क्षेत्र में इसी तरह के अपराध में लिप्त है

पूछताछ करने पर, उन्होंने खुलासा किया कि उन्हें यमुनापार क्षेत्र में इसी तरह के अपराध में लिप्त है और उन्होंने पी एस आनंद विहार, गाजीपुर, मयूर विहार और पूर्वोत्तर जिले के क्षेत्रों में भी इस अपराध को अंजाम दिया. उन्होंने आगे खुलासा किया कि वे एक पशु का मांस लगभग 20,000 रुपये में बेचते थे.

Comments are closed.