शहीद पत्रकार के परिवार को मिले आर्थिक मदद व नौकरी

-जौनपुर के पत्रकारों ने मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन डीएम को सौंपा

जौनपुर,(प्रणय तिवारी)। लखीमपुर खीरी जिले में पत्रकार रमन कश्यप की मौत से पूर्वांचल समेत जौनपुर के पत्रकारों में खासा आक्रोश बढ़ गया है।मंगलवार को पत्रकारों के समूह ने जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा से मिलकर अपना रोष दर्ज कराया।इस दौरान उन्हें मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन सौंप कर मांग उठाई कि पत्रकार के हत्यारों पर सख्त कार्रवाई की जाए। परिजन को 45 लाख रुपये की सहायता और पत्नी को सरकारी नौकरी की घोषणा की जाए।

विदित हो कि बीते 3 अक्टूबर को लखीमपुर खीरी जिले में कवरेज के दौरान इलेक्ट्रॉनिक चैनल के पत्रकार रमन कश्यप शहीद कर दिए गए। इस घटना में किसान और भाजपा कार्यकर्ताओं सहित 9 लोग मारे गए थे। घटना में मृत किसानों और भाजपा कार्यकर्ताओं के परिजन को 45-45 लाख रुपये, आश्रित को नौकरी देने की घोषणा प्रदेश सरकार द्वारा की गई है। लेकिन प्रदेश सरकार द्वारा शहीद पत्रकार के परिवार को आर्थिक सहायता और आश्रित को नौकरी की घोषणा अभी तक नहीं की गई।

इस घटना से जौनपुर जिले के पत्रकारों में आक्रोश व्याप्त है। जिले के पत्रकारों की मांग है कि लखीमपुर के पत्रकार रमन कश्यप के परिवार को भी 45 लाख रुपये की आर्थिक सहायता, पत्नी को सरकारी नौकरी दी जाए। साथ ही पत्रकार के हत्यारों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाए जिससे भविष्य में इस तरह की पुनरावृत्ति किसी पत्रकार के साथ ना हो।

इस दौरान राजकुमार सिंह, राजेश श्रीवास्तव, जावेद अहमद, राकेशकान्त पांडेय, अजीत सिंह, अरुण यादव, संजय अस्थाना, इन्द्रजीत सिंह मौर्य, सुशील स्वामी, विनोद विश्वकर्मा, संजय मिश्रा, नीतीश कुमार, अजय पांडेय, संजय चौरसिया, नरेंद्र गिरी, नीरज सिंह, रोहित चौबे, संतोष सोनी, कमलेश कुमार, छोटेलाल सिंह, अजीत बादल, जुबेर अहमद, संजय मिश्रा, सुनील कुमार आदि मौजूद रहे।

Comments are closed.