शराब के अवैध कारोबार में दो गिरफ्तार

बक्शा पुलिस व आबकारी की टीम ने संयुक्त रूप से की कार्रवाई

देवेंद्र सिंह यादव

जौनपुर: जिले में बक्शा थाना पुलिस और आबकारी विभाग की संयुक्त टीम ने बुधवार देर रात एक मकान में छापा मारा। इस दौरान 21 पेटी, कुल 945 शीशी (200 एमएल) अवैध अपमिश्रित शराब के साथ ससुर और बहू को गिरफ्तार किया। पुलिस अधीक्षक ग्रामीण शैलेंद्र कुमार सिंह ने गुरुवार को पुलिस लाइन में मामले का खुलासा किया और आरोपियों के बारे में बताया। वहीं, मामले में महिला का पति और दूसरा इस अवैध कारोबार का सरगना फरार है, जिनकी तलाश में पुलिस की टीम लगी हुई है।

सभी चारों लोग मिलकर नशीली अवैध शराब का कारोबार करते थे। फिर नकली रैपर, नकली क्यूआर कोड लगाकर असली जैसा बनाकर बेचते थे, जिससे उन्हें अधिक लाभ मिलता था। पुलिस यह भी पता लगा रही है कि ये लोग शराब बनाते थे या कहीं से लाकर बेचते थे।
पुलिस अधीक्षक ग्रामीण ने बताया कि चुरावनपुर गांव निवासी धनंजय यादव पुत्र संग्राम यादव अवैश शराब का काम करता था। वह बक्शा थाना क्षेत्र के धौकलगंज सुजियामऊ निवासी सत्य प्रकाश उर्फ नाटे लल्लन के साथ इस अवैध कारोबार को करता था। सत्य प्रकाश के घर में अवैध शराब रखवाई जाती थी। जहां से सत्य प्रकाश की पत्नी कंचन देवी और उसका पिता लल्लन अवैध शराब को बेचने का काम करते थे।

इसकी खबर मुखबिर के जरिए बक्शा थाने की पुलिस को लगी। इसकी जानकारी थानाध्यक्ष दिव्य प्रकाश सिंह ने आबकारी निरीक्षक सदर श्याम कुमार गुप्ता को दी। इसके बाद पुलिस और आबकारी विभाग की टीम ने बुधवार रात करीब साढ़े 12 बजे सत्य प्रकाश के घर में संयुक्त छापेमारी की।

पुलिस ने घर से ससुर लल्लन और बहू कंचन को पकड़ लिया। जबकि सत्य प्रकाश और धनंजय कोहरे का लाभ उठाते हुए भाग निकले। पुलिस ने घर में कुल 21 पेटी शराब बरामद की। जिसे खोलकर देखा तो हर पेटी में 45 बोतलें थी। सभी 200 एमएल की थीं।

इस मौके पर मौजूद आबकारी निरीक्षक सदर श्याम कुमार गुप्ता ने बरामद अवैध अपमिश्रित शराब की शीशियों पर लगा क्यूआर कोड स्कैन किया, तो वह नकली मिला। जांच में शीशियों में लगा रैपर भी नकली मिला। गिरफ्तार किए गए दोनों आरोपियों ने बताया कि उनके साथ दो लोग और हैं, जो नशीली अवैध शराब बेचने का काम करते हैं।

Comments are closed.