एसटीएफ और नोएडा पुलिस ने इनामी सिरियल किलर को किया गिरफ्तार

एक दर्जन से ज्यादा हत्याएं कर चुका है किलर, रोहतक के युवक की हत्या कर शव फेंका था ग्रेनो में

नोएडा: मेरठ यूनिट एसटीएफ और थाना नॉलेज पार्क पुलिस ने एक 50 हजार रुपए के इनामी सिरियल किलर को गिरफ्तार किया है। आरोपी ने बीती 27 जुलाई को हरियाणा के रोहतक के भलौट गांव निवासी रोहित की हत्या कर शव को ग्रेटर नोएडा क्षेत्र के नाले में फेंका था। पुलिस का दावा है कि आरोपी एक दर्जन से ज्यादा हत्याएं कर चुका है। आरोपी गदर नाम से गैंग चलाता है जिसमें करीब 400 लोग शामिल हैं।
रोहतक के भलौट निवासी राजभवन ने थाना नॉलेज पार्क पुलिस से 27 जुलाई को शिकायत की थी कि उनका बेटा 21 वर्षीय रोहित 24 जुलाई की सुबह 10 बजे रोहतक के ही आसन गांव निवासी सौरभ उर्फ सिक्कू से मिलने के लिए निकला था। रोहित की मां ने उसी दिन दोपहर तीन बजे कॉल की तो उसका मोबाइल स्विच ऑफ था। परिजन ने रोहित की तलाश शुरू की लेकिन कुछ पता नहीं चला। अगले दिन सौरभ ने परिजन को जानकारी दी कि उसने रोहित को रोहतक के सांपला कस्बे से दिल्ली जाने वाली बस में दोपहर 12 बजे बैठा दिया था। दोपहर साढ़े 12 बजे कॉल कर रोहित ने सौरभ को बताया था कि वह दिल्ली के पीरागढ़ी जा रहा है। 27 जुलाई को रोहित का शव ग्रेटर नोएडा के नॉलेज पार्क स्थित नाले में पड़ा मिलने की सूचना पुलिस ने परिजन को दी थी। परिजन ने इस मामले मेेें अज्ञात आरोपियों पर केस दर्ज करने की तहरीर दी थी लेकिन पुलिस ने इस मामले में वीरवार 7 अक्तूबर की रात केस दर्ज किया है।
एसटीएफ की मेरठ यूनिट की बिछाए जान में फंसा सिरियल किलर
एडीसीपी ग्रेटर नोएडा विशाल पांडेय ने बताया की एसटीएफ की मेरठ यूनिट और नॉलेज पार्क पुलिस को सूचना मिली कि कई मुकदमों में फरार चल रहा नवीन किसी काम से बाइक से दिल्ली की तरफ जाने वाला है। इस पर एलजी गोल चक्कर पर चेकिंग के दौरान वीरवार देर रात एक संदिग्ध व्यक्ति पल्सर बाइक से परी चौक से सूरजपुर की तरफ जाता दिखाई दिया जिसे रोकने का प्रयास किया गया लेकिन वह व्यक्ति रुकने के बजाय तेजी से भागने लगा। इस पर पुलिस ने उसका पीछा करते हुए उसे गिरफ्तार कर लिया। आरोपी के पास से एक पिस्टल, 4 कारतूस, एक मोबाइल फोन, एक बाइक और 500 रुपए नकद बरामद हुए हैं।
हत्या के हत्या करता रहा नवीन, लेकिन अब तक पुलिस की पकड़ से रहा था दूर 
पूछताछ के दौरान गिरफ्तार सिरियल किलर नवीन मलिक ने बताया कि अपने भाई संदीप व दोस्तों के साथ मिलकर उसने 2007 में आपसी रंजिश के चलते गांव के ही राज सिंह की हत्या कर दी थी। इसके बाद 2015 में मेरे भाई तथा दोस्त ने गोहाना में सिटी केबल वाले भगत सिंह से रंगदारी मांगी थी। 2015 में भी मैंने अपने साथियों के साथ नाहरा गांव के मास्टर जो शराब का ठेकेदार था उसका अपहरण कर 20 लाख की फिरौती मांगी थी। इसके बाद नवीन ने वर्ष 2019 में अपने दोस्त प्रवीण उर्फ बिट्टू की हत्या में शामिल आरोपी रविए सोनू और अक्षय को पानी में डुबोकर मार डाला और उनकी लाश को खतौली नहर में फेंक दिया था। वर्ष 2020 में पानीपत के तीन अधिकारीयों का अपहरण कर रंगदारी मांगी थी जिसका मुकदमा पानीपत के मतलौंडा में दर्ज है। वर्ष 2020 में ही अपने गांव के पवन से हथियारों को लेकर हुए विवाद में उसकी गोली मारकर हत्या कर दी थी। वर्ष 2020 में इसने अपने साथियों के साथ मिलकर ग्रेटर नॉएडा के दादरी में संदीप को गोली मारकर हत्या कर दी थी। 2021 में आरोपी ने लडक़ी के माध्यम से रोहित को दिल्ली के एक फ़्लैट में पानी की बाल्टी में डुबोकर मार डाला था।

Comments are closed.