सुल्तानपुर के भूमिहीनों की आवाज बन रहे राम बरन इन्सान

-जय सतगुरु भूमिहीन सेवा समिति के माध्यम से दबे कुचले भूमिहीनों में जगा रहे हैं अलख

लम्भुआ-सुलतानपुर। जिले की लम्भुआ तहसील के गुपसांड़ निवासी रामबरन इंसान ने अपना पूरा जीवन गरीब, भूमिहीन और दबे कुचले लोगों की आवाज उठाने में समर्पित कर दिया है। शासन-प्रशासन को कई बार लिखित मांगपत्र के जरिये सरकारी जमीनों का भूमिहीनों में बंटवारा करने की मांग उठा चुके हैं।

राम बरन सरोज ने जय सतगुरु भूमिहीन सेवा समिति का गठन किया। जिसमें वर्तमान में 2 सौ सक्रिय सदस्य हैं। रामबरन, इन सभी के साथ मिलकर पिछले पांच सालों से दबे कुचले भूमिहीनों में अलख जगा रहे हैं। इनके द्वारा कई बार जिला मुख्यालय और राजधानी में धरना प्रदर्शन कर अपनी मांगों के सम्बन्ध में ज्ञापन दिया गया है।

गरीब भूमिहीनों के लिए भूमि की मांग करने वाले राम बरन इंसान अनुसूचित जाति के पासी समुदाय के अंतर्गत आते हैं। इनके दो बेटे इंस्पेक्टर हैं तथा तीसरा बेटा भी शासकीय सेवा की तैयारी में लगा हुआ है। इनका कहना है कि वह केवल इंसान की पूजा करते हैं और इंसानियत को ही अपना धर्म मानते हैं। वे सरकारी जमीनों के भूमिहीनों को दिए जाने के लिए अपनी मांग उठाते रहेंगे।

Leave A Reply