सुमन योजना के तहत महिलाओं को मिलेंगी गुणवत्तापूर्ण चिकित्सीय सेवाएं

- मातृ मृत्यु की सूचना देने वाले को सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना के तहत मिलेंगे ₹1000

इटावा,(नीलकमल)। सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना के जरिये मातृ और शिशु मृत्यु की रोकथाम के लिए सम्मानजनक और गुणवत्तापूर्ण चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध कराना इस योजना का प्रमुख उद्देश्य है। इसके तहत गर्भवती महिलाएं व प्रसूता और सभी नवजात शिशु निशुल्क गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य देखभाल व लाभ प्राप्त कर सकेंगे यह कहना है मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. भगवान दास का। उन्होंने बताया कि इस कार्यक्रम के तहत जिले की सात स्वास्थ्य इकाइयों में महिलाओं और शिशु को अनिवार्य रूप से उच्च कोटि की स्वास्थ्य सेवाएं निःशुल्क दी जाएंगी।

सीएमओ ने बताया मातृ मृत्यु दर में गुणात्मक सुधार लाने व सही आंकड़ों की जानकारी के उद्देश्य से शासन द्वारा एक नई पहल भी की गई है।जिसके तहत मातृ मृत्यु की सूचना देने वालों को ₹1000 ऑनलाइन उनके खाते में भेजा जाएगा। यह सूचना टोल फ्री नंबर 104 पर दी जा सकती है। उन्होंने बताया गर्भवती की प्रसव के पूर्व या प्रसव के दौरान मौत होती है, तो कोई भी यह सूचना दे सकता है।

अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. सुशील कुमार ने बताया शासन स्तर से मृत्यु की सूचना में गुणात्मक सुधार के लिए यह बेहद ही महत्वपूर्ण पहल है। जिससे सही जानकारी समय से प्राप्त हो सकती है। उन्होंने बताया गर्भवती की मृत्यु की सूचना टोल फ्री 104 नंबर पर देने के लिए मृतक महिला का नाम,आयु,पति का नाम, घर का पता, बताना अनिवार्य है। जिसके तहत सबसे पहले सूचना देने वाले व्यक्ति को उसके खाते में ₹1000 ऑनलाइन भेजा जाएगा मातृ मृत्यु की सूचना मिलने पर स्वास्थ्य केंद्र पर तैनात प्रभारी चिकित्सा अधिकारी व डॉक्टर को मौत के कारणों की रिपोर्ट एक सप्ताह में सीएमओ कार्यालय में जमा करानी होगी। यह सूचना जन समुदाय, आंगनवाड़ी, आशा किसी के भी द्वारा दी जा सकती है।

मातृत्व स्वास्थ्य परामर्शदाता सीपी सिंह ने बताया जिले में अप्रैल 2021 से 31सितंबर तक 11 गर्भवती की मृत्यु की सूचना दी गई है।सूचना के उपरांत सामुदायिक आधारित जांच भी की गई है सामुदायिक स्तर पर मातृ मृत्यु की गर्भावस्था से लेकर प्रसव के 42 दिनों के अंदर महिला की मृत्यु होने की सबसे पहले सूचना देने वाले व्यक्तियों को ₹1000 की धनराशि उनके बैंक खाते में ऑनलाइन ट्रांसफर की जाएगी।

उन्होंने बताया सैफई मेडिकल कॉलेज,जिला महिला अस्पताल और समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भरथना,बसरेहर, जसवंत नगर,सरसई नावर,महेवा(सात स्वास्थ्य इकाइयों) चिकित्सालय पर टोल फ्री नंबर 104 अंकित कर दिए गए हैं सूचना जारी करने के लिए। उन्होंने बताया मातृ मृत्यु दर में प्रभावी कमी लाने के लिए विभाग प्रयासरत है और मैं जनमानस से अपील करूंगा उनके क्षेत्र में गर्भवती या प्रसूता की मृत्यु हो तो अवश्य 104 नंबर टोल फ्री पर सूचना दें।

Comments are closed.