टैंक की सफाई करने उतरे मजदूर, दो की हुई मौत

पुलिस ने मृतकों के परिजनों की शिकायत पर फैक्ट्री मालिक और ठेकेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। 

नोएडा: थाना कासना क्षेत्र के औद्योगिक क्षेत्र साइट-5 स्थित एक केमिकल फैक्ट्री में मंगलवार रात टैंक की सफाई करने उतरे दो मजदूरों की मौत हो गई। जहरीली गैस से दम घुटने के कारण यह हादसा हुआ। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया है। पुलिस ने मृतकों के परिजनों की शिकायत पर फैक्ट्री मालिक और ठेकेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।
थाना प्रभारी सुधीर कुमार सिंह ने बताया कि औद्योगिक क्षेत्र साइट-5 स्थित जगदंबा केमिकल फैक्ट्री है। फैक्ट्री में काम करने वाले जनपद बांदा निवासी रविंद्र ने बताया कि मंगलवार रात फैक्ट्री का ठेकेदार हेमंत उनके घर पर बुलाने आया था। रविन्द्र और उनके अन्य रिश्तेदार फैक्ट्री के पास ही किराए के मकान में रहते हैं। हेमंत ने ठेकेदार से कहा कि थोड़ी देर के लिए फैक्ट्री में चल कर काम करना है। ठेकेदार हेमंत रविन्द्र, उसके मौसा रामभेष, मौसेरा भाई पंकज और रमेश को 6 हजार रुपए देने का लालच देकर उन्हें फैक्ट्री ले गया।
ठेकेदार और फैक्ट्री मालिक पर लगाया जबरन टैंक में उतारने का आरोप 
ठेकेदार और फैक्ट्री मालिक सुरेंद्र गुप्ता ने चारों व्यक्तियों से केमिकल टैंक की सफाई के लिए कहा। आरोप है कि चारों के इंकार करने पर भी वह जिद पर अड़ गए और मजदूरों को धमकाने लगे। उन्होंने कहा कि पहले भी वह कई बार टैंक की सफाई करा चुके हैं। इसमें कोई परेशानी नहीं होती। ठेकेदार और फैक्ट्री मालिक ने बिना सेफ्टी बेल्ट और मास्क दिए रामभेष और पंकज को टैंक में उतार दिया। कुछ ही समय में टैंक में सफाई के लिए गए दोनों  जहरीली गैस से बेहोश हो गए। जानकारी होने पर उन्हें बाहर निकाल कर अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टर ने दोनों को मृत घोषित कर दिया गया। परिजन ने देर रात ठेकेदार और फैक्ट्री मालिक पर आरोप लगाकर हंगामा किया।
ग्रेटर नोएडा जोन एडीसीपी विशाल पांडेय ने बताया कि  पीडि़त परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी फैक्ट्री मालिक सुरेंद्र गुप्ता और ठेकेदार हेमंत के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं। जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Comments are closed.