टीके के लिए धक्का-मुक्की, सामाजिक दूरी-मास्क भूले लोग

टीका लेने के लिए गुत्थमगुत्थी, न सोशल डिस्टेंसिंग न ही मास्क

नोएडा: कोरोनारोधी टीकाकरण महाअभियान में टीका लेने के लिए लोग गुत्थमगुत्थी करते दिखे। किसी भी टीकाकरण केंद्र पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं हुआ। इन केंद्रों पर सुरक्षाकर्मी भी लोगों को संभाल नहीं पा रहे थे। कई केंद्रों पर लोगों को टीका लगाने के लिए 4-5 घंटे का इंतजार करना पड़ा। एक बजे दोपहर के बाद आए लोगों को बिना टीका लिए लौटना पड़ा। ग्रेटर नोएडा के ग्रामीण क्षेत्र में भी भारी संख्या में लोग टीका लगवाने पहुंचे। सबसे अधिक टीकाकारण बिसरख ब्लॉक में हुआ।
जिला अस्पताल में मंगलवार सुबह सात बजे से ही लोग टीकाकरण के लिए लाइन में खड़े थे। 11 बजे महिलाओं और पुरुषों की लाइन जिला अस्पताल के मुख्य गेट के बाहर तक पहुंच गई। टीका लगवाने की जल्दबाजी में लोग सोशल डिस्टेसिंग पूरी तरह से भूल गए। पंजीकरण कराने वालों और बिना पंजीकरण वाले दोनों के साथ सबसे बड़ी परेशानी यह हुई कि इन लोगों को टीका लगवाने में तीन से चार घंटे का इंतजार करना पड़ा। कई लोगों को बिना टीका ही वापस लौटना पड़ा। दोपहर एक बजे के बाद बिना पंजीकरण कराने वाले लोगों को टीका नहीं दिया गया। इसी तरह शिशु अस्पताल के मुख्य गेट के पास तीन लाइन लगी हुई थीं। इनमें कई लोग ऐसे थे, जो सुबह 11 बजे से खड़े हुए अपनी बारी का इंतजार कर रहे थे। बीच-बीच में आगे जाने की जल्दबाजी में लोगों आपस में बहस भी करते नजर आए। यहां भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किसी ने नहीं किया गया। कई लोग बिना मास्क के ही लाइन में लगे थे। एक सुरक्षाकर्मी इन लोगों को पर्ची देकर आगे भेज रहा था। यहां भी पंजीकरण कराने वाले लोगों को भी अंदर नहीं जाने दिया गया। बिना पंजीकरण वाले पंजीकरण के बाद ही लोग अंदर गए।

Comments are closed.