भाई के साले को सबक सिखाने के लिए उसके पांच साल के बेटे की अगवा कर हत्या ,हुआ गिरफ्तार

भाई के साले को सबक सिखाने के लिए उसके पांच साल के बेटे की अगवा कर हत्या ,हुआ गिरफ्तार

रिपोर्ट-रवि डालमिया

भाई के साले को सबक सिखाने के लिए उसके पांच साल के बेटे की अगवा कर हत्या कर दी। यूपी के एटा जिले के एक गांव के जंगल बॉडी को जमीन में गाड़ दिया। पुलिस ने आरोपी सुनील कुमार (32) को गिरफ्तार कर लिया है। गाजीपुर थाना पुलिस ने सोमवार देर रात इसकी निशानदेही पर बॉडी रिकवर कर ली, जिसे पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। शुरुआती जांच के बाद आरोपी सुनील ने खुलासा किया है कि शक है कि उसके भाई मनोज की मौत के लिए साले राजन और राजकुमार जिम्मेदार हैं। इसलिए राजन के बेटे का मर्डर कर दिया।

राजन सिंह परिवार के साथ गाजीपुर की गूर्जर बस्ती में रहते हैं

पुलिस के मुताबिक, राजन सिंह परिवार के साथ गाजीपुर की गूर्जर बस्ती में रहते हैं। फैमिली में पत्नी भूरी देवी और दो बेटे थे। घर के करीब ही भाई राजकुमार और उसकी पत्नी पूजा रहती है। राजन का 5 साल का बेटा 15 जनवरी को अचानक गायब हो गया। काफी तलाश करने पर नहीं मिला तो पुलिस में गुमशुदगी दर्ज करा दी। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज खंगाले तो पता चला कि राजन का बेटा उसके भाई राजकुमार की पत्नी पूजा के साथ जाता दिखा। पूजा से पूछताछ की तो उसने बताया कि बच्चा उसके साथ आया था और घर के बाहर खेल रहा था। दोबारा फुटेज खंगाले तो एक शख्स बच्चे को ले जाता दिखा।

सुनील उसके जीजा मनोज का छोटा भाई है

राजन को फुटेज दिखाई तो उसने बताया कि सुनील बच्चे को ले जा रहा है, जो उसके जीजा मनोज का छोटा भाई है। सुनील की लोकेशन एटा में मिली, जहां उसे दबोच लिया गया। कड़ी पूछताछ में जुर्म कबूल लिया। सुनील ने बताया कि उसके भाई मनोज की पत्नी से अनबन रहती थी। मनोज की 2015 में संदिग्ध हालात में मौत हो गई। सुनील को शक था कि राजन और राजकुमार ने अपनी बहन की मदद से उसके भाई मनोज की हत्या की है। वह खुद राजन के घर के पास किराए पर रहता था। राजन की पत्नी भूरी ने उससे 1500 रुपये भी लिए थे, जो वह वापस नहीं कर रही थी। इसलिए सबक सिखाने को उनके बेटे का मर्डर कर दिया।

Comments are closed.