उदयपुर में हिंदू युवक की नृशंस हत्या से देश की संप्रभुता व धर्मनिरपेक्षता को पहुंची आंच : आलोक कुमार

-सोशल मीडिया पर नूपुर शर्मा का समर्थन करने के विरोध में जिहादियों ने एक हिन्दू युवक का सिर धड़ से किया अलग

नई दिल्ली। राजस्थान के उदयपुर में हिंदू युवक की दुकान में घुस कर दिनदहाड़े की गई नृशंस हत्या की विश्व हिंदू परिषद (विहिप) ने कड़ी निंदा की है। साथ ही इस मामले से जुड़े भाजपा के पूर्व नेता नूपुर शर्मा और नवीन कुमार के परिवारों को सुरक्षा मुहैया कराने की भी मांग सरकार से की है। गौरतलब है कि सोशल मीडिया पर नूपुर शर्मा का समर्थन करने के विरोध में दो मुस्लिम युवकों ने मंगलवार को एक हिन्दू युवक कन्हैया लाल का सिर धड़ से अलग करके हत्या कर दी है।

विहिप के केंद्रीय कार्याध्यक्ष आलोक कुमार ने मंगलवार को एक बयान जारी कर कहा कि उदयपुर में एक हिन्दू युवक की हत्या करने के बाद वीडियो बनाने और भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जान से मारने की धमकी देने वाले लोग देश की संप्रभुता की खिल्ली उड़ा रहे हैं। यह भारतीय समाज के उदारवाद, विचारों की स्वतंत्रता और धर्मनिरपेक्षता को सीधी चुनौती है जो भारत की जनता, विश्व हिंदू परिषद और केंद्र सरकार को स्वीकार्य नहीं है।

उदयपुर हत्याकांड के विरोध और आतंक के नाश के लिए सोशल मीडिया पर संकल्प मार्च का आह्वान।

कल दिल्ली में कन्हैया लाल को दी जाएगी श्रद्धाजंलि
उदयपुर में दर्जी का काम करने वाले दुकानदार कन्हैया लाल की दिनदहाड़े सिर काटकर हत्या करने के विरोध में और आतंक के नाश के लिए बुधवार शाम 5 बजे राजधानी दिल्ली में संकल्प मार्च का आयोजन किया जा रहा है। इस दौरान मजहबी उन्माद के शिकार कन्हैया लाल को श्रद्धांजलि भी दी जाएगी। इस संकल्प मार्च में भाजपा नेता तेजिन्दरपाल सिंह बग्गा और हिन्दू इकोसिस्टम के नेता व पूर्व विधायक कपिल मिश्रा भी शामिल होंगे।

Comments are closed.