होली पर लाभ के लिए उपाय व टोटके

वास्तु दोष निवारण के लिए अति उत्तम है होलिका दहन की राख

– संजीव अग्रवाल
सनातन धर्म के तंत्रशास्त्र में होलिका की राख से कई तरह की नकारात्मक शक्तियों का असर व्यक्ति के ऊपर से हट जाता है। वास्तु दोषों के निवारण के लिए अति उत्तम होली दहन की राख।

होली दहन के दूसरे दिन होली की राख को घर लाकर उसमें थोड़ी सी राई और मोटा नमक मिलाकर किसी बर्तन में रख लें। ये बर्तन घर में किसी सुरक्षित जगह रखें। इस उपाय से नजर दोष और बुरे समय से मुक्ति मिल सकती है। पैसों की तंगी दूर होती है। इससे गृह कलह और आर्थिक बाधाएं दूर होती हैं।

आर्थिक परेशानियों को दूर करने के लिए होलिका की राख को लाकर पूरे घर में छिड़क दें। इससे घर से नकारकत्मक शक्तियों का प्रभाव दूर होता है।
होलिका की राख को एक पोटली बनाकर तिजोरी में रखें। इससे संचित धन बढ़ता है। टोने टोटके का भय होने पर इस राख से तिलक भी कर सकते हैं, इससे आत्मबल मिलता है।

होलिका की राख शरीर में लगाकर गर्म जल से स्नान कराने से नकारात्मक प्रभाव निर्मूल हो जाता है।

होली की भस्म (राख) को मस्तक पर गले में लगाएं। इससे स्वास्थ्य सुख बना रहेगा।

होलिका की राख अपने घर के आग्नेय कोण (दक्षिण-पूर्व) में उस अग्नि को तांबे या मिट्टी के पात्र में रखें और निकट सरसों के तेल का दीपक जला दें। इस उपाय से घर की सारी नकारात्मक ऊर्जा जलकर समाप्त हो जाएगी।

आप होली के दिन एक काले रंग का कपड़ा लें और उसमें काली हल्दी को बांध दें। घर का परिवेश सकारात्मक हो जाएगा और सभी परेशानियों से मुक्ति मिल जायेगी।

शीघ्र विवाह के योग के लिए होली के दिन सुबह एक साबुत पान पर साबुत सुपारी एवं हल्दी की गांठ शिवलिंग पर चढ़ाएं। लाभ ही लाभ पाएं। यह उपाय कई बार कर सकते हैं

वैवाहिक सुख प्राप्ति के उपाय। घर के बीच में एक चकोर टुकड़ा साफ कर के उसमें आसन लगा कर कामदेव का पूजन करें, इससे वैवाहिक जीवन सुखमय रहेगा।

होली के दिन चांदी के पात्र में कच्चा दूध डालकर चन्द्रमा को अर्घ्य दें। पति-पत्नी के आपसी संबंधों में मधुरता आयेगी।

जिस दिन होलिका का दहन किया जाता है, उस दिन आप होलिका दहन में आटा और जौ चढ़ाएं। इस उपाय से घर के क्लेश मिट जाते हैं।

Leave A Reply