वायुसेना दिवस पर दिखा वायुसैनिकों का पराक्रम, राफेल- सुखोई ने भी दिखाया दम

-सीडीएस समेत तीनों सेनाओं के प्रमुख रहे मौजूद, पीएम नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने वायुसेना को दी बधाई

हिंडन एयरबेस, गाजियाबाद। भारतीय वायुसेना के 89वें स्थापना दिवस यानी शुक्रवार 8 अक्टूबर को वायुसैनिकों ने हैरतअंगेज उड़ानों के जरिये दुनियां के सामने अपनी विशेषज्ञताओं का लोहा मनवाया. देश को गौरवान्वित होने का यह मौका शुक्रवार को गाजियाबाद स्थित हिंडन एयरबेस पर मिला.

शुक्रवार को आयोजित भव्य कार्यक्रम में भारतीय जेट्स और हेलिकॉप्टर्स ने हिंडन एयरबेस पर अपना दमखम दिखाया. इससे पहले आज वहां वायुसेना के पैराट्रूपर्स ने हैरतअंगेज करतबों के जरिए अपना शौर्य दिखाया.गौरतलब है कि आजादी के 75वें साल के मौके पर इस साल एयर फोर्स डे परेड में 75 जेट्स ने हिस्सा लिया.

राफेल और सुखोई ने दिखाया दम

हिंडन एयरबेस पर बाकी फाइटर जेट्स के साथ राफेल और सुखोई-30 ने भी अपनी ताकत दिखाई. दोनों जेट्स द्वारा दिखाए गए करतबों को देख दांतों तले उंगली दबा ली.

सीडीएस समेत तीनों सेनाओं के प्रमुख रहे मौजूद

वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल विवेक राम चौधरी, नौसेना प्रमुख करमबीर सिंह, सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे, चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत भारतीय वायुसेना दिवस के मौके पर गाज़ियाबाद के हिंडन एयरबेस पहुंचे.

जब मैं सुरक्षा परिदृश्य को देखता हूं जिसका आज हम सामना कर रहे हैं तो मैं पूरी तरह से सचेत हूं कि मैंने एक महत्वपूर्ण समय पर कमान संभाली है. हमें राष्ट्र को बताना चाहिए कि बाहरी ताकतों को हमारे क्षेत्र का उल्लंघन नहीं करने दिया जाएगा.

-वायुसेना प्रमुख विवेक राम चौधरी

पीएम मोदी, राष्ट्रपति कोविंद ने दी बधाई

भारतीय वायुसेना के 89वें स्थापना दिवस पर पीएम मोदी ने भी ट्वीट किया. उन्होंने लिखा, ‘एयरफोर्स डे पर वायु योद्धा और उनके परिवारों को बधाई. भारतीय वायु सेना साहस, परिश्रम और व्यावसायिकता का पर्याय है. उन्होंने चुनौतियों के समय में देश की रक्षा करने के साथ-साथ अपनी मानवीय भावना भी दिखाई है.’

वहीं, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्विटर पर लिखा, ‘वायुसेना दिवस पर वायु योद्धाओं, पूर्व कर्मी और उनके परिवारों को बधाई. राष्ट्र को भारतीय वायु सेना पर गर्व है जिसने शांति और युद्ध के दौरान बार-बार अपनी क्षमता और क्षमता साबित की है. मुझे विश्वास है कि भारतीय वायुसेना उत्कृष्टता के अपने पोषित मानकों को बनाए रखना जारी रखेगी.’

Comments are closed.