विकास कार्यों में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी, अनुपम शुक्ला

डीएम के निर्देश पर सीडीओ ने कलेक्ट्रेट सभागार में अधिकारियों संघ की बैठक

देवेन्द्र सिंह यादव

जौनपुर: मुख्य विकास अधिकारी अनुपम शुक्ला ने
कहा कि विकास कार्यों में किसी प्रकार की शिथिलता बर्दाश्त नहीं की जाएगी।सभी अधिकारी कर्मचारी अपने निर्धारित लक्ष्य को शत-प्रतिशत पूर्ण कराएं।वह शुक्रवार को कलेक्ट्रेट सभागार में डीएम के निर्देश पर विभागीय कार्यों की समीक्षा कर रहे थे।

कोविड- की तीसरी लहर को देखते हुए उन्होंने सभी स्वास्थ्य केंद्रों को पूरी तरह से अलर्ट करते हुए दवा और इमरजेंसी सेवा को दुरुस्त करने का निर्देश दिया।सीएचसी में ऑक्सीजन प्लांट की उपलब्धता एवं उनके क्रियाशीलता के संबंध में जानकारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ लक्ष्मी सिंह से प्राप्त करते हुये कहा कि कोविड-19 की तीसरी लहर को देखते हुए सभी प्रकार की तैयारी पूर्ण कर ली जाए।जिले के सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में आवश्यक दवाओं की उपलब्धता बनी रहे।
15 से 18 वर्ष के युवाओं को शत-प्रतिशत टीकाकरण कराए जाने हेतु कार्य योजना बनाकर कार्य करें और लक्ष्य प्राप्त करें।

मुख्य विकास अधिकारी ने जल जीवन मिशन के अंतर्गत चल रही योजनाओं के संदर्भ में विस्तार से चर्चा करते हुए कहा कि दिए गए समय में ही कार्य पूर्ण कराया जाए। गो-आश्रय स्थलों की समीक्षा करते हुए निर्देश दिया कि मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी निराश्रित पशुओं का आकलन कर लें, जो भी गो-आश्रय स्थल बन रहे हैं उनकी नियमित मॉनिटरिंग करे और गोवंशो के टीकाकरण के लक्ष्य को अवश्य प्राप्त करें।

सिंचाई विभाग की समीक्षा करते हुए निर्देशित किया कि नहरों में पानी टेल तक पहुंचाया जाए, जिससे अधिक से अधिक किसानों को लाभ पहुंचाया जा सके। मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि विद्युत विभाग का बकाया भुगतान शीघ्र करा लिया जाए। कृषि से संबंधित जो भी कार्य होने हैं उन्हें चिन्हित कर ले और समय से पूर्ण करे। फसल बीमा में जितने भी दावे आए हैं उनका निस्तारण समय से कर दिया जाए।

सामुदायिक शौचालय की प्रगति की समीक्षा करते हुए जिला पंचायत राज अधिकारी  को निर्देशित किया कि जितने भी कार्य चल रहे हैं उनकी नियमित समीक्षा की जाए। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) एवं (शहरी) की गुणवत्ता की जांच करते हुए जरूरतमंद लाभार्थियों को उपलब्ध कराना सुनिश्चित किया जाए।

 मुख्य विकास अधिकारी के द्वारा अधूरे निर्माण कार्यों की प्रगति, 102 नेशनल एंबुलेंस सेवा की स्थिति, ऑपरेशन कायाकल्प के अंतर्गत कराए जाने वाले कार्य की प्रगति, हैंडपंपों का रिबोर सहित अन्य विभागों के कार्यों विस्तार से समीक्षा की और अधिकारियों को निर्देश दिया कि शासन की मंशा के अनुसार समयान्तर्गत एवं गुणवत्तापूर्ण कार्य कराया जाना सुनिश्चित करें।

        इस अवसर पर सभी विभागों के अधिकारीगण और कार्यदाई संस्था के सदस्य उपस्थित रहे।

Comments are closed.