युद्ध के बीच फंसी पाक की छात्रा को भारत ने निकाला, छात्रा ने PM मोदी को थैंक्यू कहा

महिला ने कहा, "आपका बहुत शुक्रिया हमें सुरक्षित निकालने के लिए."

आज यूक्रेन पर रूसी हमलों का 14वां दिन है. 14 दिन के बाद भी यूक्रेन पर रूस के हमले कम नहीं हुए हैं. राजधानी कीव समेत कई शहरों में अब हर जगह सिर्फ तबाही नज़र आ रही है. वहीं, यूक्रेन पर हमले को देखते हुए सभी देश अपने-अपने लोगों को वहां से सुरक्षित निकालने में जुटे हैं. ऑपरेशन गंगा के तहत भारत ने भी अब तक हजारों लोगों को यूक्रेन से सुरक्षित निकाला है. वहीं, अब एक पाकिस्तानी महिला ने यूक्रेन से उन्हें सुरक्षित निकलने पर पीएम मोदी का धन्यवाद किया है. महिला ने कहा, “आपका बहुत शुक्रिया हमें सुरक्षित निकालने के लिए.”

महिला का एक वीडियो सामने आया है जिसमें खुद को वो  एक पाकिस्तानी महिला बताती हैं. वीडियो में कहती हैं, मेरा नाम अस्मा शरीफ है. कीव में भारतीय दूतावास समेत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मैं धन्यवाद करती हूं कि उन्होंने हमारी मदद करते हुए हमें यहां से सुरक्षित निकाला. उन्होंने आगे कहा कि, वो बेहद मुश्किल माहौल में फंसी हुई थी और भारतीय अधिकारियों ने उनकी मदद कर उन्हें वहां से सुरक्षित बाहर निकाला जिसके लिए पीएम मोदी का बहुत धन्यवाद. सूत्रों के अनुसार, भारतीय अधिकारियों द्वारा अस्मा को बचाया गया और बहार निकलने के लिए पश्चिमी यूक्रेन के रास्ते में हैं. जानकारी के अनुसार अस्मा जल्द अपने घर पहुंच जाएंगी.

बता दें, भारत ने यूक्रेन में बिगड़ते माहौल को देखते हुए ऑपरेशन गंगा अभियान चलाया जिसके तहत अब तक 18 हजार से ज्यादा लोगों को वहां से सुरक्षित वतन लाया गया है. बीते दिन रोमानिया से दो उड़ानों के जरिए 410 भारतीयों को वापस लाया गाय. नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने जानकारी देते हुए कहा कि, ऑपरेशन गंगा के तहत 15521 भारतीयों को 75 विशेष नागरिक उड़ानों से एयलिफ्ट किया गया है तो वहीं भारतीय वायु सेना के 12 विमान से 2467 लोगों को वापस लाया गया. साथ ही बताया कि अब तक 32 टन से ज्यादा राहत सामग्री भी यूक्रेन के पड़ोसी देशों में भेजी गई है.

Comments are closed.